जानें शनि देव को खुश करने के लिए क्या करना चाहिए? (11 उपाय)

नमस्कार दोस्तों। आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे, शनि देव को खुश करने के लिए क्या करना चाहिए? और इनसे जुड़ी सारी जानकारियां हम आप लोगों को देने का प्रयास करेंगे। जैसे शनि देव किन कारणों से खुश होते है? शनि देव को प्रसन्न करने के लिए करे ये 11 उपाय, शनि देव को क्या पसन्द है? शनि देव की कृपा कब होती है और शनि देव किन राशियों में मजबूत होते है? ये सारी जानकारी आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

जानें शनि देव को खुश करने के लिए क्या करना चाहिए?

हमारे हिंदू धर्म में शनि देव को काफी ज्यादा मान्यता दिया जाता है। ग्रंथो के अनुसार शनि देव को धर्म का राजा के नाम से जाना जाता है। इसके अलावा हमारे हिंदू धर्म में शनि देव को न्याय का भगवान कहा जाता है। लोगों का मानना है कि शनि देव भगवान के द्वारा ही मनुष्य के अच्छे बुरे कर्मों का फल दिया जाता है। ज्योतिष शास्त्र में कहा गया है, कि अगर शनि देव की अशुभ दृष्टि किसी भी मनुष्य के राशि पर पड़ जाए। तो, उस मनुष्य की जिंदगी में काफी बुरा या कठिनाइयों का सामना करना पड़ जाता है।

जैसे उनके पढ़ाई, व्यापार और निजी जिंदगी में काफी ज्यादा कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। अगर मनुष्य शनि देव को प्रसन्न रखता है। तो मनुष्य को धन, नौकरी और व्यापार में बहुत ही ज्यादा उन्नति मिलती है। इसके अलावा मनुष्य के जिंदगी में आ रही कठिनाइयों से भी निजात मिल जाता है। मान्यताओं के अनुसार ये हम सभी को पता है, कि शनिवार का दिन शनि देव को समर्पित है। अगर मनुष्य शनिवार के दिन सुबह उठकर प्रातः स्नान करके शनि देव का पूजा आराधना करता है। तो शनि देव खुश हो जाते है।

Also Read:

अपनी जन्म तारीख से राशि नाम कैसे निकाले ? (सबसे आसान तरीका)

दो विवाह का योग कब बनता है? जानें, किन कारणों से बनता है योग

जाने अपने विवाह का योग, जन्म कुंडली के अनुसार विवाह कब होगा?

यदि किसी भी मनुष्य को अपनी जिंदगी में धन, नौकरी और व्यापार में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। तो शनि देव का पूजा आराधना करने से उनके कार्यों में आ रही बाधा से छुटकारा मिल सकता है। अगर आपको शनि देव का कृपा पाना है। तो आपको दिल खोलकर दान पुण्य करना चाहिए। शनि देव की कृपा पाने के लिए आपको गरीबों और बेसहारा लोगों का हमेशा मदद करना चाहिए। और आपको हमेशा सच्चे मन और दिल से दान करना चाहिए।

शनि देव किन कारणों से खुश होते है?

शनि देव को खुश करने के लिए क्या करना चाहिए

अगर आप भी चाहते हैं, कि शनि देव का कृपा आप पर बनी रहे तो आप यह तरीका अपना सकते हैं।

  1. दान पुण्य करें : जो मनुष्य गरीबों और बेसहारा लोगों का सहारा बनता है। तो उस मनुष्य पर शनि देव की कृपा हमेशा बनी रहती है। अगर आप चाहते हैं कि शनि देव की कृपा आप पर बना रहे। तो बेसहारे लोगों को काले चने, काले तिल, उड़द की दाल और साफ कपड़े सच्चे दिल से दान करना चाहिए। इससे शनि देव काफी प्रसन्न होते है।
  2. शनि यंत्र की पूजा करें : अगर किसी भी मनुष्य को अपनी जिंदगी में नौकरी, धन और व्यापार में असफलता मिल रहा है। तो उन्हें शनिवार के दिन प्रातः स्नान करके शनि यंत्र की पूजा करनी चाहिए। ऐसा करने से मनुष्य को नौकरी, धन और व्यापार में सफलता मिल सकता है।
  3. शनि मंत्र का जाप करें : ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि मंत्र का जाप करना अत्यंत प्रभावशाली माना गया है। अगर मनुष्य के निजी और व्यवसायिक जिंदगी में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। तो शनि मंत्र का जाप करने से काफी लाभ मिल सकता है।
  4. कुत्ते की सेवा करें : किसी भी मनुष्य को हर एक प्राणी से प्रेम और उनका सेवा करना चाहिए। परंतु मनुष्य को अगर शनि देव को खुश करना है। तो कुत्तों की सेवा हमेशा करनी चाहिए। कुत्तों को भोजन खिलाना और उनका सेवा करने से शनि देव उस मनुष्य पर कभी रूष्ट नहीं होते है।
  5. हनुमान जी का आराधना करें : ज्योतिषों के अनुसार हनुमान जी और शनि देव का एक महत्वपूर्ण नाता है। ऐसा माना जाता है कि अगर कोई मनुष्य शनि देव के साथ-साथ हनुमान जी का पूजा पाठ करता है। तो उस मनुष्य पर शनि देव का विशेष कृपा बना रहता है।
  6. शिव भगवान की पूजा करें : शनि देव के गुरु भगवान शंकर जी को माना जाता है। इसलिए कोई भी मनुष्य शनिवार के दिन भगवान शंकर के शिवलिंग पर जल अर्पण करते हैं। तो शनि देव उसे मनुष्य का विशेष ख्याल रखते है।

शनि देव को प्रसन्न करने के लिए करें ये 11 उपाय

अगर आपको अपने जीवन में नौकरी, व्यापार और निजी जिंदगी में सफलता चाहिए। और आप जानना चाहते हो कि, शनि देव को खुश करने के लिए क्या करना चाहिए? तो, आपको शनि देव को प्रसन्न करने के लिए इन 11 उपाय को आजमाना चाहिए।

  1. रुद्राक्ष की माला का जाप करें : सबसे पहले आपको सुबह में उठकर स्नान आदि से निवृत होकर कुश के आसन पर बैठकर अपने सामने शनि देव की प्रतिमा को स्थापित करके उनका पंचोपचार से विधिवत पूजा करना चाहिए। उसके बाद किसी भी एक मंत्र जो रुद्राक्ष के माला के नीचे लिखा हो। उसका कम से कम पांच माला का जप करें। और शनि देव से सुख संपत्ति के लिए आराधना करें।
  2. शनि देव के नाम का पूजन करें : शनि देव का नाम इस प्रकार है। कोणस्थ, पिंगल, बभरू, कृष्ण, रौद्रांतक, यम, सौरी, शनेश्वर मंद और पिप्पलाद।
  3. काले चने का भोग लगाए : ज्योतिष शास्त्र में कहा जाता है, कि काले चने का भोग लगाने से शनि देव प्रसन्न होते हैं। सबसे पहले आप सवा-सवा किलो काले चने को तीन अलग-अलग बर्तनों में भिगो कर रख ले। इसके बाद नहा ले। और साफ वस्त्र को धारण कर ले। फिर शनि देव का पूजा करें। उसके बाद भिगोया हुए काले चने को तेल में छौंका लगा ले। और शनि देव को भोग लगाएं। इसके तत्पश्चात भैंस को पहले सवा किलो चना खिलाये। दूसरा सवा किलो चना कुष्ठ और रोगियों को खिलाएं। और आखिरी तीसरा सवा किलो चना को अपने ऊपर उतार कर किसी सुनसान जगह पर रख दे। इससे शनि देव प्रसन्न होते हैं।
  4. काला धागा का धारण करें : ऐसा कहा जाता है, कि अगर कोई मनुष्य काले धागे में बिच्छू घास की जड़ को मंत्र पढ़वा कर पहनता है। तो मनुष्य के सभी कार्य में सफलता मिलता है।
  5. लाल चंदन की माला को धारण करें : कोई भी मनुष्य अगर लाल चंदन को अभिमंत्रित करवा कर पहनते हैं। तो उस मनुष्य पर शनि देव का अशुभ प्रभाव कम हो जाता है।
  6. सरसों का तेल का दीपक जलाएं : अगर कोई भी मनुष्य संध्या के समय सरसों के दीप जलाकर उसे किसी बरगद या पीपल के पेड़ के नीचे रखता है। तो शनि देव उस पर हमेशा दृष्टि बनाए रखता है।
  7. सरसों का तेल चढ़ाए : प्रत्येक शनिवार शाम के समय शनि देव को सच्चे मन से सरसों तेल चढ़ाए। जिससे शनि से जुड़ी सभी कष्टों से मुक्ति मिलती है।
  8. मांस मदिरा का सेवन न करें : यदि किसी भी मनुष्य का साढ़ेसाती या महादशा चल रहा है। तब इस समय मनुष्य को मांस और मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से शनि देव के दुष्प्रभाव में कमी आता है।
  9. मछलियों को काला चना खिलाए : यदि कोई भी मनुष्य मंगलवार की रात को काले चने को पानी में भिगोकर शनि जयंती के दिन भिंगोया हुआ चना के साथ कच्चा कोयला, थोड़ा सा लोहे के पत्ती को काले कपड़े में बांधकर उसे मछलियों वाली तालाब में डालने से शनि देव प्रसन्न होता है। इस दरमियान आपको एक साल तक मछलियों का सेवन भूल कर भी नहीं करना चाहिए।
  10. काले धागे की माला अपने हाथ में पहने : अगर कोई भी मनुष्य काले धागे को अपने दाहिने हाथ में लगभग 19 हाथ लंबा धागा का धारण करता है। तो उस मनुष्य पर शनि देव का प्रकोप कम हो जाता है।
  11. बंदरों और काले कुत्तों की सेवा करें : अगर कोई भी मनुष्य शनि जयंती के दिन और सप्ताह में शनिवार के दिन को बंदरों और कुत्तों को बूंदी के लड्डू खिलाता है। तो इससे भी शनि देव का कुप्रभाव कम होता है।

शनि देव को क्या चीज पसन्द है?

शनि देव को खुश करने के लिए क्या करना चाहिए

जिस किसी भी मनुष्य का शनि बहुत कमजोर है। या शनि देव उनसे नाराज है, तो मनुष्य को शनिवार के दिन विधि विधान के साथ पूजा अर्चना करना चाहिए। जो की शनि देव को काफी पसंद होता है। अगर मनुष्य शनिवार के दिन शनि देव की पूजा और शनि चालीसा पढ़ता है। तो ज्योतिषों के अनुसार शनि देव को मंत्रो का जाप करना काफी पसंद होता है। ज्योतिष के अनुसार शनि देव की पूजा अर्चना अपने आसपास नजदीकी शनि मंदिर में जाकर करना चाहिए।

Also Read:

शनि को मजबूत करने के लिए क्या करना चाहिए? (10 अच्छे उपाय)

शनि खराब होने पर क्या करें? जानें ठीक करने के (8 आसान उपाय)

कुंभ राशि वाले शनि देव को कैसे प्रसन्न करें? (6 आसान उपाय)

मंदिर में मनुष्य को काले वस्त्र, लोहे के पत्तियां, सरसों का तेल और उड़द की दाल का भोग शनि देव को लगाना चाहिए। ऐसा करना शुभ माना जाता है। और वैसे व्यक्ति जिनके आसपास शनि मंदिर नहीं है। वह व्यक्ति पीपल के पेड़ के पास जाकर दीपक जलाए तो उन पर भी शनि देव की कृपा बना रहता है। और यह शनि देव को काफी पसंद होता है।

शनि देव की कृपा कब होती है?

अगर कोई भी मनुष्य अच्छा कर्म करता है, और दान पुण्य का काम करता है। तो उस मनुष्य पर शनि देव हमेशा मेहरबान होता है। शनि देव की कृपा उनके भक्तों पर हमेशा बनी रहती है। अगर किसी भी मनुष्य के ऊपर शनि देव की शुभ दृष्टि पड़ती है। तब उस मनुष्य की जिंदगी में सफलता हमेशा प्राप्त होती है। कोई भी मनुष्य अगर शनिवार के दिन शनि देव की पूजा अर्चना विधिपूर्वक करता है।

तो शनि देव का उस मनुष्य पर कृपा बनी रहती है। अगर आपको भी अपनी जिंदगी में शनि देव की कृपा पाना है। तो हमेशा गरीबों और बेसहारा लोगों का मदद करना चाहिए। जरूरतमंद और बुजुर्ग लोगों का हमेशा सेवा करना चाहिए। हमेशा आपको याद रखना है, कि सभी प्राणियों से प्यार और उनका सेवा करना चाहिए। इससे शनि देव का कृपा हमेशा बना रहता है।

शनि देव किन राशियों में मजबूत होता है?

ज्योतिषों के अनुसार ऐसा माना जाता है, कि शनि देव सभी ग्रहों में बहुत धीमी गति से चलने वाला ग्रह है। ऐसा माना जाता है कि शनि देव को एक राशि से दूसरे राशि में जाने में लगभग ढाई वर्ष का समय लग जाता है। तो आईए जानते हैं, कि शनि देव किन राशियों में मजबूत होता है।

शनि देव को खुश करने के लिए क्या करना चाहिए
  1. तुला राशि : तुला राशि वाले मनुष्य पर शनि देव की विशेष कृपा होती है। 12 राशियों में तुला राशि सातवें नंबर की राशि होती है, और इस राशि में शनि देव उच्च होते हैं। ऐसे राशि वाले मनुष्य को अच्छा फल प्रदान होता है। क्योंकि तुला राशि वाले मनुष्य बहुत ही दयावान, कर्मठ, लगनशील और ईमानदार होते हैं। यह प्रतिभाशाली और प्रभावशाली वाले मनुष्य होते हैं। इसलिए तुला राशि वाले मनुष्य पर शनि देव हमेशा प्रसन्न रहते हैं।
  2. मकर राशि : शनि देव की विशेष कृपा मकर राशि वाले मनुष्य के ऊपर इसलिए रहता है, कि मकर राशि वाले मनुष्य काफी मेहनती और उत्साही स्वभाव के होते हैं। यह कोई भी काम करते हैं। तो उसको पूरा करके ही दम लेते है। मकर राशि वाले मनुष्य काफी भाग्यशाली होता है।
  3. कुंभ राशि कुंभ : राशि वाले मनुष्य पर शनि देव अपना कृपा हमेशा बनाए रखता है। कुंभ राशि वाले मनुष्य स्वभाव से बहुत नेक, ईमानदार, उदार और धैर्यवान होता है। उनके जीवन में पैसों की कभी कमी नहीं होती है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने शनि देव को खुश करने के लिए क्या करना चाहिए? के बारे में बताया है। अगर आपको भी अपनी निजी जिंदगी में नौकरी,धन और व्यापार में सफलता चाहिए। तो आपको शनि देव को हमेशा खुश रखना पड़ेगा। आपको हमेशा दान और पुण्य का काम करना चाहिए। गरीबों और बेसहारों का सहारा बनना चाहिए। बड़े बुजुर्ग का सेवा करना चाहिए। और इस धरती पर हर एक प्राणी से आपको प्यार और उसकी सेवा करना चाहिए। इससे शनि देव काफी प्रसन्न होते हैं।

डिस्क्लेमर – इस लेख में वर्णित जानकारी और सामग्री के सटीकता के विश्वास की गारंटी हमारी या हमारी टीम की नही हैं। हमने आपको ये सारी जानकारियां विभिन्न मध्यम जैसे ज्योतिष, पंडित, पंचांग, विभिन्न धर्म ग्रंथ से इकट्ठी कर के आप तक पहुंचाई है। हमारे उद्देश्य बस सूचनाओं/जानकारियों को आपतक पहुंचाना है। इसके अलावें इसके उपयोग की जिम्मेदारी हमारी नही होगी। इसके उपयोग की जिम्मेदारी केवल उपयोग करने वाले की होगी।

FAQs:

Q. शनि देव को खुश करने का कौन सा मंत्र है?

अगर आपको शनि देव को खुश करना है। तो आप इन मंत्रों का उच्चारण कर सकते हैं। शनि बीज मंत्र- ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः। मंत्र का उच्चारण कर सकते हैं। सामान्य मंत्र- ॐ शं शनैश्चराय नमः। मंत्र का उच्चारण कर सकते हैं। शनि महामंत्र- ॐ निलान्जन समाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम। छायामार्तंड संभूतं तं नमामि शनैश्चरम। मंत्र का उच्चारण कर सकते हैं।

Q. शनि देव शुभ फल कब देता है?

अगर आप अच्छे कर्म करते हैं। गरीबों का मदद करते हैं। बेसहारे लोगों का मदद करते हैं, और दान पुण्य का काम करते हैं। तब शनि देव आपको शुभ फल देता है।

Q. शनि दोष के लक्षण क्या होता है?

अगर आप कोई काम कर रहे है। तो काम में अर्चन आना शनि दोष का लक्षण होता है। इसके अलावा कर्ज का बोझ होना, घर में आग लगना और मकान बिकना भी ये सारी चीजे शनि दोष के लक्षण होता है।

Q. शनि कमजोर है तो कैसे पता चलेगा?

अगर आप किसी भी कार्य में काफी मेहनत करते हैं। फिर भी आपको सफलता नहीं मिलता है। तो इससे पता चलता है कि आपका शनि कमजोर है।

Q. शनि के बुरे प्रभाव कैसे दूर करें?

अगर आपको शनि के बुरे प्रभाव से बचाना है। तो शनिवार के दिन गरीबों और बेसहारे लोगों को भोजन कराएं और कपड़े कंबल का दान करें।

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बताया शनि देव को खुश करने के लिए क्या करना चाहिए? और शनि देव के दोष के उपाय से संबंधित सभी जानकारी देने का प्रयास किया है। आशा करती हूं, कि मेरा यह आर्टिकल आप सभी के लिए उपयोगी साबित हुआ होगा। ऐसे ही और अन्य सभी जानकारी के लिए हमारे वेबसाइट Suchna Kendra से जुड़े रहे। और हमारे Telegram Channel अवश्य Join करें।

Share This Post:

Leave a Comment